Loading...
You are here:  Home  >  Poetry
Latest

आगे बिहाव सीजन

By   /  February 9, 2019  /  Poetry  /  No Comments

आगे बिहाव सीजन अब चलही बिहाव बर नोनी बाबू के देखा ताकी दाई जाही ददा जाही अउ जाही कका काकी काम बुता पढ़ाई लिखाई सबके होही पुछारी कतका भाई बहिनी हे कइसे हे घर दुवारी सगा पहुंना आना जाना चलही लेनदेन के बात का खवाबे का पीयाबे समधी तोरे हावे हाथ बने राखबे बेटी मोर […]

Read More →
Latest

योग करो

By   /  February 9, 2019  /  Poetry  /  No Comments

योग करो सब योग करो सुबह शाम योग करो योग करो सेहत बनाओ ताजा ताजा फल को खाओ योग करो सब योग करो सुबह उठ कर दौड़ लगाओ शुद्ध ताजा हवा को पाओ जूस पीओ और फल फूल खाओ शरीर को सब स्वस्थ बनाओ योग करो सब योग करो सुबह शाम सब योग करो प्रिया […]

Read More →
Latest

स्वच्छ भारत अभियान

By   /  February 9, 2019  /  Poetry  /  No Comments

राफा गैती धरके निकलौव, संगी मोर मितान सबो कोती बताना हे स्वच्छ भारत अभियान नदी नरवा सबो डाहर गन्दगी हर छावत हे गली सडक़ ल कोन पूछ घर हर नई भावत हे एक से बढ़ के एक आगे यहाँ तकनिकी विज्ञान सबो कोती बताना हे स्वच्छ भारत अभियान मन मारे झन बैठाव उठाव गन्दगी हर […]

Read More →
Latest

गणतंत्र दिवस

By   /  February 3, 2019  /  Poetry  /  No Comments

गणतंत्र दिवस मनायेंगे तिरंगा हम फहरायेंगे वंदे मातरम का नारा लगा के देश को हम जगायेंगे वंदे मातरम वंदे मातरम वंदे मातरम गायेंगे स्कूल हम सब जायेंगे तिरंगा हम लहरायेंगे देश के लिए जीएंगे और देश के लिए मरेंगे देश के लिए कुर्बान हुए उसको शीश नवाएंगे प्रिया देवांगन प्रियु पंडरिया जिला कबीरधाम छत्तीसगढ़

Read More →
Latest

मेरा गांव

By   /  February 3, 2019  /  Poetry  /  No Comments

मेरा गांव है बड़ा सुहाना पीपल का है छांव पुराना जिसमें बैठे दादा काका ताऊ भैया और बाबा तरह तरह की बात बताते नया नया किस्सा सुनाते कभी नही वे लड़ते झगड़ते आपस में सब मिलकर रहते सुख दुख में सब देते साथ देते हैं हाथों में हाथ चारों ओर है खुशियाँ छाई हिन्दू मुस्लिम […]

Read More →

Hit Counter provided by Skylight