News View All →

बोंदा नवापाली मतदान केंद्र हटाने से ग्रामीणों मे आक्रोश

By   3 days ago

एक तरफ चुनाव आयोग मतदान करने के लिए विभिन्न जागरूकता अभियान चला रहा है दूसरी तरफ गांव वालों को मतदान करने के लिए संघर्ष करना पड़ रहा है। सराईपाली। इस अंचल के ग्राम पंचायत बोंदा उपगांव नवांपाली मतदान कें द्र क्रमांक 130 को अचानक बदल देने से ग्रामीणों मे आक्रोश है। ग्रामीणों ने इसके लिए […]

Read More →

मच्छरों के आतंक से हर कोई आतंकित है

By   3 days ago

सराईपाली। इन दिनों नगर मे मच्छरों का आतंक बढ़ गया है, बजबजाई नालियों में मच्छरों की पैदावार धूम बढ़ रही है। तेज गर्मी के बाद भी मच्छरों की समस्या से लोगों को राहत नहीं मिल रही है। मच्छरों के प्रकोप से जहां मलेरिया की शिकायत बढ़ती है वहीं छत्तीसगढ़ मे कहीं कहीं डेंगु का भी […]

Read More →

वाणिज्य कर रिफण्ड के लिए आनलाईन अकाउण्ट रजिस्ट्रर्ड करें

By   3 days ago

सराईपाली। वाणिज्य कर विभाग द्वारा वर्ष 2008-09,09-10,10-11 के प्रकरणों मे संक्षिप्त कर निर्धारण हो चुका हो तथा रिफण्ड बनता हो और उन्हें रिफण्ड नहीं मिला हो ऐसे व्यापारियों के ा वाणिज्य कर कार्यालय जाने की जरूरत नहीं है उन्हें अपने बैंक अकाउण्ट ऑनलाईन रजिस्ट्रर्ड करना होगा। उपरोक्त जानकारी चेम्बर आफ कामर्स के कार्यकारी अध्यक्ष अमर […]

Read More →

सवरा समाज ने मतदान बहिष्कार का निर्णय वापस लिया

By   3 days ago

सराईपाली। सवरा समाज संघ द्वारा पिछले दिनों ग्राम कलेण्डा में प्रांतीय बैठक का आयोजन किया गया। जिसमें उपस्थित सदस्यों द्वारा पूर्व में घोषित लोकसभा चुनाव के बहिष्कार के निर्णय को वापस लिया गया। इस संबंध मे बताया गया कि शासन के वरिष्ठ अधिकारियों ने समाज पदाधिकारियों से मुलाकात कर चुनाव के बाद जातीय समस्या का […]

Read More →

समस्याओं का दिया ज्ञापन’हड़ताल स्थगीत

By   3 days ago

राईस मिलर्स की हड़ताल से राहत सराईपाली। राईस मिल्स एसोसिएशन द्वारा जारी हड़ताल अधिकारियों की पहल के बाद अब खत्म हो गई है। मगर इस हड़ताल के दौरान सबसे ज्यादा नुकसान दैनिक हमाली करने वाले मजदूरों केा हो रहा है। अपरोक्ष्य रूप से परिवहनकर्ता भी प्रभावित है। दुसरी तरफ राईस मिल के न चलने से […]

Read More →

लाखों खर्च लेकिन लाभ किसको पानी टंकी का नहीं मिल रहा लाभ

03

By   3 days ago

कांकेर कांकेेर। शहर के वार्डो में लाखों रूपए खर्च करके पानी टंकी का निर्माण किया गया था. लेकिन पानी टंकी निर्माण का लाभ वार्डवासियों को लाभ नहीं मिल पा रहा है. नगरपालिका परिषद द्वारा पिछले कार्यकाल के दौरान शहर के कई वार्डों में पानी टंकी का निर्माण किया गया था. पानी टंकी निर्माण का उद्देश्य […]

Read More →

लंबे इंतजार के बाद हो रहा नाली का निर्माण

02

By   3 days ago

कांकेर। शहर के राजापारा वार्ड में कई सालों से नाली निर्माण की मांग की जा रही थी. वार्ड के अधिकांश भाग में नाली निर्माण का कार्य हो गया था. जनकपुर वार्ड व राजापारा वार्ड के मध्य नाली निर्माण का कार्य नहीं हो सका था. लेकिन अंतत: नाली निर्माण का कार्य शुरू होने से वार्डवासियों ने […]

Read More →

आदिवासी समाज ने मनाया चैतरई पर्व देवी-देवताओं की हुई पूजा

01

By   3 days ago

कांकेर। चैतरई पर आदिवासी समाज द्वारा भव्य जूलूस निकाला गया. इस अवसर पर देवी-देवताओं की पूजा अर्चना कर उन्हें नई फसलों व वनोपजों को अपर्णण किया गया. परंपरा अनुसार बुधवार को आदिवासी समाज द्वारा मरकापंडु पर्व मनाया गया. जिसे आमाजोगानी के नाम से भी जाना जाता है. इस दौरान सिंगारभाट स्थित गोडवाना भवन में देवी […]

Read More →

Editorial View All →

फिर एक तमाचा

By   5 days ago

अमृतलाल पटेल, जोगनीपाली तमाचे का राज सब जानते हैं पर राजनीतिक दलों का कहना है कि यह लोकतंत्र पर तमाचा है, लेकिन हमारा मानना है यह आज की राजनीति पर तमाचा है। भारत के लोकतंत्र में सब स्वीकार है, तभी तो यहां त्यौहार की तरह मनाया जाता है। राजनीति का स्तर जिस तरह से गिर […]

Read More →

भारतीय राजनीति मे मीडिया

By   2 weeks ago

मीडिया एक ऐसा शब्द है जो देश क ो न के वल जोड़ता है बल्कि उसका मार्ग भी प्रशस्त करता है। इस बार तो आगामी आम चुनाव भी सोशल मीडिया मे लड़ा जाएगा। संचार जगत मे हो रहे नित नए आविष्कारों एवं आम जनता की गहरी पैठ ने भारतीय लोकतंत्र मे नई जान डाल दी […]

Read More →

शिकार एक शिकारी अनेक

By   2 weeks ago

आज भारत मे राजनीतिक बुखार व्याप्त है जब परिणाम घोषित न हो जाए इसका कोई इलाज नहीं है। आज अगर हम नजर उठाकर देखें तो पता चलता है सबके निशाने पर भाजपा और नरेंद्र मोदी ही हैं याने कांग्रेस, सपा,बसपा टीएम सी, आम आदमी पार्टी आदि पार्टियों के निशाने पर केवल मात्र भाजपा के प्रधान […]

Read More →

लबरा दरबार संसद

By   2 weeks ago

अमृतलाल पटेल, जोगनीपाली नए वादे न इरादे लच्छेदार बात भाषण पता नहीं और क्या क्या। चुनाव के आते ही राजनीतिक दल एवं नेतागण यही कुछ परोसते रहे हंै। सरकार बनते ही फिर वही जोड़ तोड़ कि किससे किसको क्या फायदे हैं या नुकसान । देश हित एवं जनहित की बातें तो जैसे भूल ही जाते […]

Read More →

क्या हम विवेकानंद को जान पाए हैं

By   4 weeks ago

किसी मनुष्य के मुंह मे यदि सदा कोई अन्न डालता रहे तो उस मनुष्य की स्वयं हाथ उठाकर खाने की शक्ति क्रमश: लुप्त हो जाती है। सभी विषयों मे जिसकी रक्षा दूसरों के द्वारा होती है उसकी आत्म रक्षा की शक्ति कभी स्फुरित नहीं होती। सदा बच्चों की भांति पालन से बड़े बलवान युवक भी […]

Read More →

प्रश्र चिन्ह ?

By   4 weeks ago

किसको वोट करना है और क्यों, आज हम कहां सोच रहे देश का अस्सी प्रतिशत मतदाता पार्टियों मे बंटे नजर आते हैं। अपने दल की खामियां मनमानी ऐसे मे कहां नजर आएगी? ऐसा आज का नहीं है जब से देश आजाद हुआ है तब से हम ने अपनी आंखों से देखते न अपनी दिमाग से […]

Read More →

ये तो कायरता है

326

By   1 month ago

उफ ये कैसी बर्बरता है इससे किसको क्या हांसिल होगा? इसके पीछे उद्देश्य क्या है समझ से परे है। राजनीतिक होता तो ये रास्ता गलत है, आर्थिक होता तो ये रास्ता गलत है,अगर सामाजिक है तो भी तो ये रास्ता गलत है। इस रास्ते तो किसी पर भी राज नहीं किया जा सकता, सिर्फ नरफरत […]

Read More →

आम चुनाव मे आम आदमी की भूमिका

325

By   1 month ago

चुनाव आयोग द्वारा 16 वीं लोकसभा के लिए चुनाव तारीखोंं की घोषणा के साथ ही देश भर मे चुनावी हलचल ते हो गई है साथ ही आदर्श आचार संहिता भी लागू हो गई है।सभी राजनीतिक दल भी चुनावी दंगल मे भिडऩे के लिए कमर कस चुके हैं। चुनाव आयोग क ी अतिरिक्त सख्ती नोटा का […]

Read More →

Poetry View All →

By   5 days ago

नारी हाँ मैं नारी हूँ….. मैं ही प्रकृति, मैं ही अम्बा, मै ही जननी मै ही कल्याणी हूँ इस युग मे देखो कैसा हश्र है मेरा दिया पुरूष को मैने ही जनम पग पग पर वही करता आज मेरा दमन वो सोच कहां गई…. जहां मुझे लक्ष्मी माना जाता था जन्म पर मेरे उत्सव मनाया […]

Read More →

By   2 weeks ago

हाइकु गीत कलियां डरी हुई जग जीवन, फैला अनाचार, जब देखती। मरोड़ रहा, माली फूलों की डाली, नींद न आती। नंगा होकर, भ्रष्टाचार नाचता, जनता रोती। बेटी की लाज, बेच रहा है बाप, ममता रोती। चन्द लुटेरे, लड़की को आ घेरे, रोती चिल्लाती। चौहारे पर दु:शासन लूटता, लाज द्रौपदी। सड़क पर श्राबरू लूट जाती, बाला […]

Read More →

भूरी – बिछी

By   2 weeks ago

1 बारो महिा बसंत, छुटभइया मन ऐस करथें, चुनाव म चोर मन घलो, गांधी बनथें । 2 हांथ टोरइया, चनुाव के समें हंाथ जोरथे। खुर्सी पावत जहर घोरथे। 3 भेंडिय़ा भेंड़ के, बोली बोलथे। चुनाव सबके पोल खोलथे। 4 दुसासन मीरजाफर अउ जयचंद संसद म जीत के जाही। तब ये देस ल कोन बचाही- पिछू […]

Read More →

सरकारी अस्पताल

By   4 weeks ago

मरीज के चिपक गे डॉक्टर के फूले गाल। वहा रे हमर सरकारी अस्पताल।। थैली जेब ला कन्नेखी देखथें, बिन पइसा के अटियाथें, नर्स ह देखत नाक चपक थे, दवई कस करू गोठियाथे। डॉक्टर घर सरकारी दवई होगे माला माल। वहा रे हमर सरकारी अस्पताल।। पहिली मेवा तब हे सेवा, नइते मरे बिहान हे। समे समे […]

Read More →

शुभ पक्षी नीलकण्ठ

By   4 weeks ago

हे प्रभो दिए जनम अनगिनत, जीवन है उसमें एक पक्षी का। चह चहाकर रोज सवेरे,देते शोभा घर आंगन का। कई रंगों की देखा पक्षी, उनकी रूप है बड़ी निराली। नीलकण्ठ की विचित्र शोभा, देख हर्षित होते है नर नारी। शुभ सकुन देता है सबको, गमन करते जब देख लेते है, वह दिन अति सुखदाई होगी, […]

Read More →

बसंती बयार

By   4 weeks ago

मृदुल पवन के झांैके तन मन को मदमस्त करने लगी, नए पत्तियां नए कोयलों को, छुकर आने वाली ये हवाएं, मस्तिष्क मे सुकुन लाने लगी इंतजार रहता है तेरा ऐ बसंती बयार। तुम्हारे आने से आया मौसम मे आया खुमार मनभावन है तुम्हारी छुअन प्रकृति भी मुस्कुराती है तुम्हारी आगमन से नव कोयल रंग चढ़ाती […]

Read More →

रंग बरसय

By   4 weeks ago

हरियर रंग हरियाले जिनगी के तोर ढंग ला जामुनी रंग जमाले रिसता नाता के संग ला गुलाबी गुलाबी मुसकान दे झन छूट्य जनम जनम लाली रंग लसलसावय नाता गोता लागे मिलन पिंथर पिंथर परोस दे मया अब्बड़ अकन नारंगी रंग मं रंगा देबे पिरित के सुघ्घर रंग कभू छूट्य न संगवारी सुख दुख के संग […]

Read More →

होली तिहार

By   4 weeks ago

आगे आगे हे चारो डाहर होली तिहरा। छागे छागे हे चारो कोती बसंत बहार।। बैर भाव जुन्ना सब ल भुलाबो, उल्हा पाना कस मया बढ़ाबो। सबो अनबन के कांटा खोभ, करू कस्सा सब ल जलाबो। सुघ्घर हमर राज ल नई बानावन बिहार, आगे आगे हे चारो डाहर होली तिहार। चारो डहर बोलंय मीठ मीठ बोली, […]

Read More →

Hit Counter provided by Skylight